क़िताब …

क़िताब ….. अलमारी के सबसे ऊपर वाले खाने में रखी धूल से अटी वो किताब रोज़ रात को मुझे घूरती … Continue reading क़िताब …

मेला …

मेला —— इस तरह से उसने हर मुद्दा दबा दिया लाखो जलाए दिए और मेला दिखा दिया, भूख से मरते … Continue reading मेला …